Home / देसी इलाज ( हिंदी में ) / मोटापा कम करने का बिलकुल सरल उपचार, ज़रूर आजमाइये
<

मोटापा कम करने का बिलकुल सरल उपचार, ज़रूर आजमाइये

पानी हमारे शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। पानी के बिना इंसान जी नहीं सकता है, लेकिन गुनगुना या गर्म पानी भी कम फायदेमंद नहीं है। ये गुणों की खान है। गुनगुना पानी पीने से मोटापा कम होता है। मोटापे से परेशान लोगों के लिए गुनगुना पानी बहुत हितकारी है। खाना खाने के आधे घंटे बाद एक ग्लास गुनगुने पानी को सिप करके पीने से शरीर का वजन कम होता है। इसके पीछे ये तर्क दिया जाता है कि गुनगुना या गर्म पानी शरीर के विषैले तत्वों को बाहर निकाल देता है। इससे शरीर की गंदगी को साफ करने का प्रोसेस तेज होता है और किडनी के माध्यम से गंदगी बाहर निकल जाती है। इसके अलावा थोड़ा गर्म पानी पीने से कब्ज भी दूर होती है। गर्म पानी से नहाने से थकान मिटती है और त्वचा में निखार आता है।

गर्म पानी के इस्तेमाल से वजन कम होने के साथ-साथ ब्लड सर्कुलेशन भी संतुलित होता है। गर्म पानी में नींबू और शहद मिलाकर पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, साथ ही ये मिश्रण वजन कम करने में भी फायदेमंद है। किडनी की सही देखभाल के लिए दिन में सुबह-शाम 2 बार गुनगुना पानी पीना चाहिए। जिससे शरीर में मौजूद गंदगी बाहर निकल जाती है और शरीर साफ रहता है।अपने दिन की शुरुआत नींबू पानी से करें। क्योकि पेट पर जमा अतिरिक्‍त चर्बी को कम करने का यह कारगर घरेलू उपाय है। गुनगुने पानी में नींबू का रस और थोड़ा सा नमक मिला लें। हर रोज सुबह इसका सेवन करने से आपका मेटाबॉलिज्‍म दुरुस्‍त रहता है और साथ ही आपको वजन कम करने में भी मदद मिलती है। पानी आपके उपापचय को बढ़ाता है तथा चर्बी को जलाने की प्रक्रिया को तेज करता है।

दिन में आठ से नौ ग्लास पानी पीने से भी वेट कम करने में मदद मिलती है। कई शोधों में माना गया है कि दिन में आठ से नौ ग्लास पानी से 200 से 250 कैलोरी आप बर्न कर सकते हैं। शहद एक काम्पलेक्स शर्करा की तरह है, जो मोटापा कम करने में काफी हद तक मदद करता है। गर्म पानी में एक चम्मच शहद प्रतिदिन सुबह खाली पेट पीने से कुछ ही समय में परिणाम दिखने लगते हैं, आप चाहें तो इसमें इस मिश्रण में एक चम्मच नींबू रस भी डाल सकते हैं।

अक्सर देखा गया है कि खाना खाने के बाद लोग ढेर सारा पानी पी लेते हैं जो कि पेट निकलने की मुख्य वजहों में से एक है। खाने के अन्त में पानी पीना उचित नहीं, बल्कि एक-डेढ़ घण्टे बाद ही पानी पीना चाहिए। अगर आपको ज्यादा प्यास लग रही है तो खाने के बाद बस एक कप हल्का गुनगुना पियें।,खाना खाते समय ध्यान रखें कि बीच में कभी भी पानी न पीएं साथ ही खाना खाने के बाद भी पानी पीने से बचें। खाने के कम से कम 10-15 मिनट बाद गुनगुना पानी पियें। कुछ दिनों तक लगातार इस उपाय को अपनाएं और असर देखें।

दिन भर में 3- 4 लीटर पानी व तरल पदार्थ लें। पानी न सिर्फ फैट कम करता है, बल्कि शरीर से जहरीले तत्वों को भी निकालता है। यह भूख कम करता है और कब्ज रोकता है। पीनी के अलावा नारियल पानी, फलों का जूस, सूप, नींबू पानी या छाछ का प्रयोग भी कर सकते हैं।नोट : इस आर्टिकल में दी गई जानकारियां रिसर्च पर आधारित हैं । इन्‍हें लेकर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूरी तरह सत्‍य और सटीक हैं, इन्‍हें आजमाने और अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।